हां तो भाई लोग, देखो जैसा की हमारी हिन्दी फिल्मों में बडे भाई, दोस्त और हितैषी राय देते है, मै भी राय दे रहा हूं कि ईश्क मौहब्बत जैसी फिजूल कि चीज से दूर ही रहों। पर अगर फिर भी तुमने ठान ही लिया है तो आज मैने भी तुमको एक लम्बा चौडा लेक्चर मारने की ठान ली है। सही भी जब बन्दे ने गाडी का एक्सीडेन्ट करने का मन बना ही लिया है तो लगे हाथ मै अपना ज्ञान झलकाने में पीछे क्यूं रहूं ?
देखो भाई लोगो.... अच्छा एक मिनट इससे पहले कि ये एनजीओ वाले मुझ पर जेण्डर बायस पर बात करने का आरोप लगा दें। मै साफ कर दूं मै बार बार भाई लोग इसलिये कह रहा हूं कि ये छिछोरापन हम लडकों के हिस्से में ही आया है इसलिये समझाना भी तो उन्हे ही पडेगा। खुदा कि नेमत से ये हसीन चेहरे तो बेचारे हमेशा से ही मासूम होते आये है। अव्वल तो बन्दे की गाडी का एक्सीडेन्ट करवाने में इनका कोई योगदान होता ही नहीं है, गर हो भी तो बाद में बडी मासूमिसयत से ये कह भर दे कि देखो जी! मै घरवालों के खिलाफ नहीं जा सकती। बस हो गया बन्दा खल्लास। इसलिये आज का ज्ञान हर वीकेन्ड पर सच्चा प्यार कर बैठने वाले भाई लोगो के नाम..
हां तो भाईयों.. देखो अगर तुमने एक बार फिरसे अपनी रातों की नींदे, अपना सुकून तबाह करने का मन बना ही लिया है तो सुनो... देखो अपना प्यार जगाने के लिए सबसे पहले शाहरूख खान की कोई अच्छी सी फिल्मे देखो... वैसे अच्छी क्या वो तो वैसे भी अपनी हर फिल्म में दूसरे की गर्लफ्रेण्ड को लेकर भागने का आदि है। क्या है ना उससे तुमको भी हौसला मिलेगा कि किसी को भी पटाया जा सकता है। फिर अपने मोबाईल में अलग अलग जोनर के गाने, गजले लोड करवाओ, पता नहीं मिलने वाली लडकी का कैसा टेस्ट हो? फिर ना शहर कि सिटी बसों में बडे शरीफ और सज्जन बनकर घूमो.. थोडा होमवर्क करो। और मालूम करो कि तुम्हारा लक्ष्य क्या है.. अर्जुन बन जाओ बेटा। और जब कोई लडकी तुम्हारे साथ अपना कीमती टाईम बर्बाद करने को तैयार हो जाए तब तुम भी कमर कसके जंगे आजादी के मैदान में कूद पडो। फिर देखना मैडम जो तुमको टोकना शुरू करेगी... ऐसा नहीं करो वैसा करो... स्मोकिंग मत किया करो, बीयर से मोटापा बढता है, मन्दिर जाने से भगवानजी आशीर्वाद देते है, तुम्हारे दोस्त अच्छे नहीं है... और जब पांच-छः महिने में पठ्ठा मिनी मुरारी बापू बन जाए तो फिर किसी रोज क्रिस्टल पाल्म में आईनोक्स थियेटर में बैठ कर मूवी देखते देखते तुमको बोलेगी, जानू! अब तुम पहले जैसे नहीं रहे। तो भाई लोग, अपने आप को बदलने के लिए तैयार हो जाओ और कूद पडो.... पर एक बात कहूं, सब करना पर कभी किसी का दिल नहीं तोडना..


शीर्षक
कैसा लगा.. 
0 Responses

Post a Comment